ChatGPT फ्यूचर में बदल सकता है बहुत कुछ, क्या सर्च इंजन हो जाएंगे खत्म?

ChatGPT : चैटबॉट्स पिछले कुछ दिनों से चर्चा का केंद्र बने हुए हैं। आपने हाल ही में ChatGPT का नाम सुना होगा। यह एआई पावर्ड चैटबॉट है। चैटजीपीटी की एंट्री के बाद कयास लगने लगे कि गूगल का भविष्य अधर में हो सकता है। कम से कम सर्च इंजन प्लेटफॉर्म के तौर पर कंपनी को बड़ा झटका लग सकता है।

शायद कंपनी को भी इस बात का अहसास हो गया और उसने आनन-फानन में बार्ड का ऐलान कर दिया। बार्ड भी चैटजीपीटी की तरह एआई चैटबॉट है, जो कंपनी के प्रोजेक्ट लाएमडीए पर आधारित है। ये सभी शर्तें एक आम उपयोगकर्ता के लिए बहुत तकनीकी हो सकती हैं। लेकिन इनका आपके भावी जीवन पर बहुत प्रभाव पड़ सकता है।

क्या सर्च इंजन खत्म हो जाएंगे?

ऐसा नहीं है कि ये चैटबॉट सर्च इंजन को खत्म कर देंगे। कम से कम अभी के लिए नहीं, लेकिन इनकी वजह से आपके सर्च इंजन के इस्तेमाल का तरीका बदल जाएगा। Microsoft लंबे समय से सर्च इंजन बाजार में Google के साथ प्रतिस्पर्धा करने की कोशिश कर रहा है।

काफी कोशिशों के बाद भी कंपनी गूगल का मार्केट शेयर कम नहीं कर पाई है। अब कंपनी ने एक नया सेगमेंट देखा है जहां वह गूगल के सामने पैर रख सकती है।

Google पर बढ़त लेते हुए, Microsoft ने Open AI के साथ हाथ मिलाया और ChatGPT के साथ अपना स्वयं का सर्च इंजन Bing लॉन्च किया। ओपन एआई ने चैटजीपीटी विकसित किया है और अब आप इन चैटबॉट्स के साथ बिंग पाएंगे, जो माइक्रोसॉफ्ट का सर्च इंजन है।

इतनी चर्चा क्यों है?

एक आम उपयोगकर्ता के लिए ये सभी शर्तें बोझिल, उबाऊ और अत्यधिक तकनीकी लग सकती हैं। लेकिन इन्हें समझना बहुत जरूरी है। अब आपको किसी चीज के बारे में सर्च करना है तो आप Google या किसी और सर्च इंजन में जाएं। यहां आप उस सवाल को लिखें और सर्च करें।

इसके बाद आपको उस सवाल का सीधा जवाब नहीं मिलता बल्कि आप उससे जुड़े लिंक्स और आर्टिकल देखते हैं। चैटबॉट इस काम को आसान बनाता है। जैसे ही आप उससे कोई सवाल पूछते हैं, वह आपको उस सवाल का जवाब दे देता है। आपको लिंक या लेख पर जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

कितनी बदलेगी दुनिया?

उदाहरण के लिए आपको किसी विषय पर निबंध लिखना है तो अब आप सर्च इंजन पर सर्च करेंगे। यहां आप कोई भी लेख पा सकते हैं। या आप कई लेखों से विवरण प्राप्त करके अपने लिए एक निबंध तैयार कर सकते हैं।

यही सवाल अगर आप एआई चैटबॉट से पूछेंगे तो आपको रिसर्च और जोड़तोड़ नहीं करनी पड़ेगी। बल्कि आपको सामान्य भाषा में निबंध लिखा मिलेगा। इसमें कुछ बदलावों की आवश्यकता हो सकती है।

यह फीचर आपको माइक्रोसॉफ्ट बिंग के नए अवतार में मिलता है। यानी चैटबॉट का ऑप्शन आपको सर्च इंजन पर ही मिल जाता है। आप इस चैटबॉट पर जाकर आसानी से कुछ भी सर्च या पूछ सकते हैं।

ऐसा नहीं है कि सिर्फ माइक्रोसॉफ्ट और गूगल ही इस रेस में हैं। बल्कि चीनी सर्च इंजन Baidu भी अपने AI चैटबॉट पर काम कर रहा है। वहीं You.com एक ऐसा सर्च इंजन है, जिस पर यह सुविधा पहले से मौजूद है।

आप सोचेंगे और फोटो तैयार हो जाएगी

एआई चैटबॉट्स की प्रक्रिया केवल किसी एप्लिकेशन के लिए लेख या कोड लिखने तक सीमित नहीं है। बल्कि आपको कई ऐसे बॉट्स मिल जाएंगे, जो आपकी मर्जी से तस्वीर भी बना सकते हैं। Open AI का Dall-E ऐसा ही एक बॉट है।

यह आपकी सोच के अनुसार कोई भी चित्र तैयार कर सकता है। अभी इसके नतीजे उतने सही नहीं हैं, लेकिन धीरे-धीरे इसमें सुधार हो रहा है। ऐसा ही एक बॉट आपको डिस्कॉर्ड पर मिल जाएगा, जिसका नाम मिड जर्नी है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाला यह बॉट आपकी सोच के मुताबिक तस्वीर बना सकता है। आप अपनी कल्पना को जितना बेहतर ढंग से समझा पाएंगे, ये बॉट आपको उतने ही बेहतर परिणाम देंगे।

Leave a Comment